Category Archives: रूट लेवल

किसी एक करवट नहीं बैठेगा उत्तर प्रदेश में लोकसभा का चुनाव

कहा जाता है कि केन्द्र की सत्ता पर बैठने का रास्ता उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों से निकलता है। यही कारण है कि हर राजनैतिक दल उत्तर प्रदेश से ज्यादा से ज्यादा सीटों को निकालने के प्रति ललायित रहता … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

मिस्र में ‘इस्लामिक डेमोक्रेसी’ का खात्मा

मिस्र के लोगों ने आखिरकार ‘इस्लामिक डेमोक्रेटिक मॉडल’ को खारिज कर दिया है। एक वर्ष पहले सत्ता में आने के बाद से अपदस्थ राष्टÑपति मोहम्मद मुर्सी मिस्र को लगातार इस्लाम के रास्ते पर हांकने की कोशिश कर रहे थे। एक … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

इशरत जहां एनकाउंटर का सच!

इशरत जहां एनकाउंटर मामले पर पूरे देश की नजर टिकी हुई है। सीबीआई गुजरात हाई कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। चूंकि अब यह केस पूरी तरह से राष्टÑीय महत्व की हो चुकी है, इसलिए सीबीआई भी फूंक-फूंक कर … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

सोशल मीडिया: दोधारी तलवार

क्या संचार माध्यमों के क्षेत्र में होने वाली तकनीकी क्रांति दुनिया को अराजकता की ओर धकेल रही है या फिर यह दुनिया भर के मुख्तलफ हिस्सों में चलने वाले जन आंदोलनों को उभारने में अहम भूमिका निभा रही है? इस … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

बिहार में ‘मुस्लिम वोट बैंक’ की सियासत

पिछले कुछ दिनों से बिहार में जो सियासी गणित बैठाये जा रहे हैं, उसके केंद्र में भी मुस्लिम वोट बैंक ही है। बिहार की राजनीतिक प्रयोगशाला में ईजाद किये जा रहे फार्मूले का इस्तेमाल आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान देश … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

ईरान में नई रोशनी बनकर उभरे हसन रोहानी

ईरान के राष्टÑपति चुनाव में उदारवादी नेता हसन रोहानी की जीत से इतना तो साफ हो ही गया है कि ईरान में भी अब कट्टरवादी धारा को पसंद नहीं किया जा रहा है। खुलेपन और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को पसंद … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

दूर तक फैली है नक्सलवाद की जड़ें

नक्सली समस्या पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में लगभग सभी दल इस बात पर सहमत थे कि नक्सलियों को कुचलने के लिए कठोर कदम उठाने का वक्त आ गया है, क्योंकि नक्सली अब सीधे तौर पर … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

आरटीआई पर सियासी दलों की एकता

अवाम की लगाम थामने की होड़ करने वाले राजनीतिक दल जनता को हिसाब-किताब देने के लिए तैयार नहीं है। सभी दलों के नेता एक स्वर में यही कह रहे हैं कि इससे जनतंत्र को खतरा है। यह बात किसी से … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

पी के शाही को कोई करिश्मा ही जीत दिला सकती है

विनायक विजेता, वरिष्ठ पत्रकार/ कोई करिश्मा ही जीता सकता है जदयू प्रत्याशी पी के शाही को चार विधानसभा में आगे रहेंगे राजद प्रत्याशी प्रभुनाथ सिंह इंदूभूषण के आग्रह का पडा असर, उत्साहित नहीं दिखे भूमिहार मतदाता प्रभुनाथ की जीत राजद … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment

नक्सली हमला : आंसू बहाने तक सीमित न हों हमारी संवेदनाएं

अनुराग मिश्र, छत्तीसगढ़ के सुकमा में कांग्रेसी नेताओं की परिवर्तन रैली पर हुए नक्सली हमले के बाद राज्य से लेकर केंद्र तक की सरकारें हिली हुई हैं। इतना ही नहीं इन हमलों के बाद एक बार फिर ख़ुफ़िया तंत्र और … विस्तार से पढ़ें

Posted in रूट लेवल | Leave a comment