छोटे पर्दे पर गांधीगिरी करते नजर आएंगी शीना बजाज

0
37

राजू बोहरा, नई दिल्ली

नयी दिल्ली , बड़े पर्दे की तरह आजकल पर्दे पर भी आजकल काफी सामाजिक प्रयोग किये जा रहे है.यही वजह है कि इन दिनों टेलीविजन के दर्शकों को अलग-अलग सब्जेक्ट वाले गंभीर व सामाजिक शो देखने को मिल रहे है.इस तरह के कार्यकर्म व धारावाहिक पेश करने मैं अभी भी हमारा स्वदेशी चैनल दूरदर्शन सबसे आगे है जो एक से बढ़कर सामाजिक और मनोरंजक सीरियल दर्शकों के लिए  के लिए लगातार प्रसारित कर रहा है जो हिंदुस्तान कि जनता को मनोरंजन के साथ जागरूक करने का सराहनीय कार्य कर रहे है, इस बार दूरदर्शन ने दर्शकों को जागरूक करने के लिए गांधीगिरी वाला धारावाहिक ”एक किरण रौशनी की” छोटे पर्दे पर उतरा है जो इन दिनों दर्शको मैं खूब लोकप्रिया हो रहा है, हर शुक्रवार रात ९.०० बजे प्रसारित हो रहा

यह लोकप्रिय धारावाहिक टीवी पर दिखाया जाने वाला पहला इस तरह का शो है जो गांधीगिरी के माध्यम से आज के इस आधुनिक समाज के लोगो को जागरूक करने सराहनीय कम कर रहा है, इस धारावाहिक में युवा अभिनेत्री शीना बजाज किरण नामक एक एसी लड़की की चैलेजिंग भूमिका निभा रही है जो गांधी जी की विचारधारा के माध्यम से समाज मैं फ़ैली बुराइयों को ख़त्म करने का प्रयास करती है,हालांकि गाँधी जी द्वारा बताये गए अहिंसा और सच्चाई के मार्ग पर चलने में उसे हर कदम पर संघर्ष करना पड़ता है,लेकिन वो पीछे नहीं हटती,यही वजह है की उसे अपने परिवार के विरोध का सामना भी करना पड़ता है,धारावाहिक ”एक किरण रौशनी की”मैं शीना बजाज अभिनीत यह शीर्षक भूमिका दूरदर्शन के दर्शकों में खूब लोकप्रिय हो रही है, दूरदर्शन इस लोकप्रिय मनोरंजक व संदेशप्रद धारावाहिक का निर्माण युवा निर्मात्री अशिवनी सिडवाणी कर रही है जबकि इसे लिख रहे है हिंदुस्तान के मशहूर हास्या कवि हुल्लर मुरादाबादी के सुपुत्र युवा कवि-लेखक और अभिनेता नवनीत  हुल्लर मुरादाबादी,जो इस धारावाहिक में एक बिजनेसमैन नवनीत प्रताप सिंह की शानदार पाजिटिव भूमिका भी निभा रहे है जो किरण को हर तरह से स्पोट करता है,धारावाहिक ”एक किरण रौशनी की”में अपनी शीर्षक भूमिका को लेकर अभिनेत्री शीना बजाज बेहद उत्साहित है,वह कहती है कि इस तरह का दिलचस्प शो टीवी पर पहली बार दर्शकों के लिए दिखाया जा रहा है और इसमें मुख्य भूमिका निभाकर काफी खुश हूँ,इस भूमिका में कई तरह के शैड है जो बेहद चैलेजिंग और दिलचस्प है,इससे भी अहब बात यह कि कि इसमें मुझे जरीना वहाब,अनंग देसाई,पंकज बैरी,नवनीत हुल्लर,और उपासना सिंह जैसे चर्चित कलाकारों के साथ मुझे लीड रोल निभाने का मौका मिला है। कुल मिला कर दूरदर्शन का यह चर्चित शो जहां एक ओर दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करता है वही कई सामाजिक मैसेज भी देती है जो आज के दौर में कम ही शो में देखने को मिलता है।

Previous articleबाइट प्लीज (उपन्यास, भाग-6)
Next articleपितृत्व विवाद के स्त्रीवादी प्रसंग
सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here