प्रणव साही के नेतृत्व में राष्ट्रीय समाजवादी पार्टी लड़ेगी बिहार का चुनाव

1
11
प्रणव साही
प्रणव साही

बिहार एक्सपेरिमेंटल होता जा रहा है, कई नई पार्टियां यहां की जमीन टटोलने में लगी हैं और इस चुनाव में फाइट के मूड में भी है। इसके साथ ही लोग भी कुछ नये ढंग से राजनीति करने की वकालत करने लगे हैं, जो न सिर्फ बिहार की बदलती मानसिकता को दर्शा रहा है, बल्कि आगे भी सकारात्मक तरीके से इसके बदलते रहने का अहसास करा रहा है। सूर्यनाथ यू. चतुर्वेदी के नेतृत्व में 2008 में गठित राष्ट्रीय समाजवादी पार्टी (सेक्यूलर) बिहार में सक्रिय हो गई है। फिल्मकार एंव समाजसेवी प्रणव साही बिहार में इस पार्टी का कमान संभाल चुके है।

पटना में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेस में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूर्यनाथ यू. चतुर्वेदी ने कहा कि पार्टी बिहार में चुनाव लड़ेगी। हम अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। अभी हम नये हैं, लेकिन धीरे-धीरे सबकुछ सीख जाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने प्रणव साही को बिहार का प्रदेश अध्यक्ष बनाने की भी घोषणा की। प्रणव साही ने कहा कि लोग ट्रेडिशनल पोलिट्क्स से ऊब चुके हैं। सिर्फ कुर्ता-पायजामा पहनकर ही पोलिट्कस नहीं होती। अब नये तौर- तरीकों की जरूरत है, और लोग इस ओर कदम बढ़ा चुके हैं। हमारी पार्टी से नये लोग जुड़ रहे हैं और जुड़ेंगे। बेहतर लोग जो ट्रेडिशनल तरीके से राजनीति नहीं करना चाहते हैं, लेकिन उनकी इच्छा इस क्षेत्र में भी अपना योगदान देने की है का हमारी पार्टी में स्वागत है।   

रंजीत सिन्हा को जेनरल सेक्रेटरी और नीलमणि को कोषाध्यक्ष बनाया गया है। इस मौके पर पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष ए के सिंह भी मौजूद थे।

Previous articleदुनिया का बंटवार (कविता)
Next article70 – 80 हजार में बेची जा रही नाबालिक लड़कियां
सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here