बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को मोबाइल से धमकी

0
15

सुगौली, वीरेन्द्र कुमार

बाल विकास परियोजना पदाधिकारी के सरकारी मोबाइल पर जान मारने की धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है। जिसको लेकर बाल विकास परियोजना पदाधिकारी पल्लवी कुमारी ने थाने में एक मामला दर्ज कराया है। आवेदन मे सीडीपीओ ने बताया है कि 20 फरवरी को 4.55 संध्या मेरे सरकारी नंबंर 9431005348 पर 9471005155 से फोन आया कि मैं मुख्यमंत्री बिहार से चितरंजन सिंह बोल रहा हूं आपके खिलाफ शिकायत है। इस संबंध में कुछ कहना है अगर माइनेज करना चाहती हो तो कुछ लगेगा, सोच लीजिए आपके खिलाफ कार्रवाइ भी हो सकती हैं। जिससे फोन करने वाले के कारण मानसिक रूप से परेशान व भयादोहन की स्थिति में सीडीपीओ है। इसी बीच 23 फरवरी को दोबारा मो. न. 9708443606 से शाम 7 बजे फोन आया और अपने को अमित सिंह बताते हुए कहा कि आपने मेरे नाम पर थाना में सनहा दर्ज किया है, आपको छोडूंगा नही। आपके खिलाफ कार्रवाइ करवाउंगा, अकेली रहती हैं न सुगौली में आपको बरबाद कर दूंगा, मुझे पहचानती नहीं हो। मामले को लेकर कांड संख्या 52/53 दर्ज किया गया है। इस बावत थानाध्यक्ष ललित विजय तिवारी ने बताया कि फोन करने वाला करमवा रघुनाथ पुर बजार के अमित सिंह हैं जिससे संपर्क कर पुछ ताछ किया जा रहा है। वहीं धमकी से डरी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी पल्लवी कुमारी ने डीएम एवं एसपी को आवेदन दी है।

Previous article…आँखे नहीं भिगोना बाबा (कविता)
Next articleदो दौरों की एक कहानी
सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here