गुंजन पटेल ने शुरु किया “सुशासन तैर रहा है” अभियान

पटना। बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस ने प्रदेश भर में हो रहे जलजमाव की समस्या और बाढ़ की आशंका को देखते हुए “सुशासन तैर रहा है” अभियान की शुरुआत की। प्रदेश के अलग अलग हिस्सों से आम लोग अपने -अपने शहर एवं गांवों के जल जमाव की तस्वीर सुशासन तैर रहा है हैशटैग के साथ साझा कर रहे हैं। गुंजन पटेल ने इस मौके पर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को ऑनलाइन हाफ पैंट भेजते हुए पिछले साल की बारिश की याद दिलाई है। उन्होंने कहा कि सुशील मोदी का एक बार फिर से हाफ पैंट पहनने का समय आ गया है क्योंकि पटना ही नहीं राज्य के अधिकांश शहरों में पहली ही बारिश में सुशासन तैरने लगा है। हाल यह है कि तमाम मंत्रियों के सरकारी बंगले भी पानी में डूब गए थे और आम लोगों का जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। विडंबना यह है कि डबल इंजन वाली सरकार अभी भी कुम्भकर्णी नींद में है और समस्या के समाधान को लेकर उदासीन है। गुंजन पटेल ने उम्मीद जताते हुए कहा कि शायद यह हाफ पैंट देख कर सुशील मोदी और उनके मुख्यमंत्री एवं साथियों की पुरानी याद ताजा हो जाए, नींद खुल जाए और सरकार हरकत में आ जाए।उन्होंने आगे बताया कि सुशासन तैर रहा है अभियान को आशातीत सफलता मिल रही है। प्रदेश युवा कांग्रेस को अब दस हजार से अधिक वीडियो और फ़ोटो प्राप्त हुए हैं। कई शहरों में इसके साइनबोर्ड भी लगवाए गए हैं। ताकि प्रशासन की नींद जल्दी टूटे। प्रदेश की आम जनता भी बढ़ चढ़कर इस मुहिम में हिस्सा ले रही है और सुशासन का ढोल पीटने वालों की पोल खोल रही है। अगर सरकार अब भी न जागी तो तैर रहे सुशासन को जनता इस चुनाव में डूबा भी देगी।

editor

About editor

सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।
This entry was posted in पहला पन्ना. Bookmark the permalink.

Comments are closed.