”कन्या भ्रूण हत्या” पर दूरदर्शन लाया एक डेली धारावाहिक ’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’

0
26

राजू बोहरा //

नयी दिल्ली, दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल डी डी वन पर सोमवार से शुक्रवार
दोपहर एक बजे एक और नया दिलचस्प डेली सोप ’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ का
प्रसारण शुरू हुआ है जो कन्या भ्रूण हत्या जैसे गंभीर विषय पर आधारित है। हर
सप्ताह सोमवार से शुक्रवार दोपहर 1 बजे डी डी नेशनल पर दिखाए जा रहे इस नए
डेली सोप ’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ का निर्माण दूरदर्शन के लिए ’’जे के
इंटरटेनमेंट’’ के बैनर तले निर्माता जसमिंदर धारणी कर रहे है जबकि इसका
निर्देशन राजेश कुमार एस शाह कर रहे है जो इससे पहले दूरदर्शन के लिए ’’करम
धरम अपना अपना’’ जैसे लोकप्रिय डेलीसोप का सफल निर्देशन कर चुके है।’’बिन
बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ का पटकथा और संवाद लेखन शिप्रा महर्षि कर रही है और
इसके ब्यव्स्थापक निर्माता अमित गुप्ता हैं।

धारावाहिक ’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ में फिल्मों और टेलीविजन के अनेक
चर्चित कलाकार अभिनय कर रहे है, जिनमें शक्ति सिंह , गजेन्द्र चौहान, राकेश
पांडे, मीनाक्षी वर्मा, वैशाली नाजरथ, संजीव त्यागी, निसार खान, और रुमा रजनी
जैसे लोकप्रिय कलाकार मुख्य रूप से शामिल हैं। इनके अलावा चाइल्ड आर्टिस्ट
अनन्या भी वैदेही की एक महत्वपूर्ण और संवेदनशील भूमिका में है। धारावाहिक
’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ महिला सशक्तिकरण पर जोर देता है और इसकी गंभीर
कहानी कन्या भ्रूण हत्या जैसे घिनौने कार्य में लिप्त समाज के कई गुनाहगारों के
मन मस्तिष्क पर चोट करती है और बेटा बेटी में भेदभाव करने वाले लोगों को यह सीख देती
है कि बेटा बेटी में भेदभाव करना भगवान की बनाई रचना का अपमान करना है जो एक
धिनौना अपराध है जो लोग कन्या भ्रूण हत्या करते है वो समाज और कानून दोनों के
गुनाहगार हैं।

’’बिन बिटिया स्वर्ग अधूरा’’ धारावाहिक की कहानी इसकी नायिका लक्ष्मी के इर्द
गिर्द धूमती है, जिसका ससुर ठाकुर मानसिंह उसकी कोख में पल रही बच्ची को मार
देने पर आमादा है, पर लक्ष्मी जान पर खेल कर अपनी अजन्मी बेटी को कई मुशिकिलों
से गुजर कर न सिर्फ बचाती है बल्कि यह भी साबित कर देती है कि अगर वो अपने
परिवार के लिए सरस्वती और लक्ष्मी है तो समय पड़ने पर दुर्गा भी बन सकती
है। कुल मिलाकर दूरदर्शन का यह नया शो उन लोगो के मुंह पर करारा तमाचा मारता है
जो बेटे कि चाह में बेटी को गर्भ में ही मार कर कन्या भ्रूण हत्या जैसे पाप को
अंजाम देते है।

Previous articleगमों के गीतों में डूबी सुरो की मलिका गीता दत्त
Next articleरियल रिजनल क्षत्रप बन गए नीतीश
लेखक पिछले सोलह वर्षो से बतौर फ्रीलांसर फिल्म- टीवी पत्रकारिता कर रहे हैं और देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों तथा पत्रिकाओ में इनके रिपोर्ट और आलेख निरंतर प्रकाशित हो रहे हैं,साथ ही देश के कई प्रमुख समाचार-पत्रिकाओं के नियमित स्तंभकार रह चुके है,पत्रकारिता के अलावा ये बातौर प्रोड्यूसर धारावाहिकों के निर्माण में भी सक्रिय हैं। आपके द्वारा निर्मित एक कॉमेडी धारावाहिक ''इश्क मैं लुट गए यार'' दूरदर्शन के ''डी डी उर्दू चैनल'' कई बार प्रसारित हो चूका है। संपर्क - journalistrajubohra@gmail.com मोबाइल -09350824380

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here