दिल्ली में हुई उत्तराखंड के नन्हे गायक-गायिकाओ की संगीत प्रतियोगिता गित्येर 2019, जितेंद्र बने विजेता

0
47

राजू बोहरा नई दिल्ली / तेवरऑनलाइन डॉटकॉम

दिल्ली के गढ़वान भवन में बद्री केदार सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था के तत्वावधान में गित्येर द्वितीय का आयोजन किया गया जिसमें उत्तराखंड के दूरस्त इबाको से आए बच्चों ने अपनी गायकी व हुनर से सबका मन मोह लिया। ज्ञात रहे गत वर्ष भी संस्था ने यह कार्यक्रम आयोजित किया था जिसका उद्देश्य उत्तराखंड के गांवों में छिपी प्रतिभा को एक मंच प्रदान करना है। संस्था के अध्यक्ष राजपाल पंवार के अनुसार इस बार इनके पास 55 बच्चों की वीडियो प्राप्त हुई जिसमें से ज्यूरी मेंबर ने 10 बच्चों का चयन हुआ एक बच्चे के नहीं पहुंचने से प्रतियोगिता 9 बच्चों के बीच ही हुई।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जीत राम जी, डी आई जी कॉस्ट गार्ड कैलास नेगी, डिस्ट्रिक जज प्रेम बर्तवाल जी जज विनोद रावत, कार्यक्रम के संयोजक अधिवक्ता संजय शर्मा जी, सुधीर रावत जी, प्रताप गुसाई जी विनोद बछेती जी, कुलदीप भंडारी, कुसुम असवान जी, एवं ज्यूरी सदस्य वीरेंद्र नेगी राही, मीना राणा, माया उपाध्याय जी ने द्वीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभ आरंभ किया। खचाखच भरे सभागार में तीन चरणों मे चुनी प्रतियोगिता में बाल गितेरों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति देकर ऐसा समा बांधा कि दर्शक तो प्रभावित हुए ही साथ ही ज्यूरी मेंबर के लिए इनमें अंतर करना मुश्किल हो गया।

अंत मे बड़ी मसकत के बाद ज्यूरी मेंबर वीरेंद्र नेगी, स्वरकोकिला मीना राणा ,माया उपाध्याय ने गि त्येर 2019 के परिणाम घोषित किये जिसमें प्रथम स्थान के लिए बाजी मारी उत्तराखंड सतपुली सैण के जितेंद्र ने तो द्वितीय स्थान प्राप्त किया ग्राम थैल अस्वालसयं की काजल ने और तृतीय स्थान पर रही ग्राम कांडा डुंगरी पंथ की दिव्या। कार्यक्रम में बच्चों को सुनने के लिए लोकगायक किशन महिपाल, शिवदत्त पंत जी गीतकार सहित्यकात डॉ सतीश कानेश्वरी के अलावा उत्तराखंड समाज के बुद्धिजीवी, समाजसेवी, साहित्यकार, पत्रकार, संस्कृति प्रेमी व गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। अजय सिंह बिष्ट ने बेहद ही रोमांचक अंदाज में मंच संचालन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here