रेल से लोगों की काफी अपेक्षाएं: के.के. श्रीवास्तव

0
23

तेवरआनलाईन, हाजीपुर

रेल से लोगों की आशांए और अपेक्षाएं काफी अधिक हैं, लेकिन संसाधन सीमित हैं । इन सीमित संसाधनों का बेहतर उपयोग कर अधिक से अधिक यात्री सुविधाएं प्रदान करने के लिए रेलवे प्रयासरत है । रेलवे का सिस्टम काफी मजबूत है और आम लोगों का इस व्यवस्था में विश्वास है। यह विश्वास ही हमें उत्तरोत्तर बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रेरित करता है । ये बातें क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की दूसरी बैठक की अध्यक्षता करते हुए पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक श्री के.के. श्रीवास्तव ने कही । उन्होंने कहा कि रेलवे उपभोक्ताओं और प्रशासन के बीच यात्रियों की समस्याओं और उनके संभावित निदान पर विस्तृत चर्चा करना क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति का प्रमुख उद्देश्य है । इस प्रक्रिया से विकास की गति बढ़ती है । अक्टूबर, 2002 में गठन के बाद पूर्व मध्य रेल द्वारा रेल यात्रियों की सुविधा के लिए लगातार प्रयास किये गये हैं ।

क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति के सचिव सह उप महाप्रबंधक (सामान्य) श्री ए.के. झा ने कहा कि रेल उपयोगकर्ता का बेहतर एवं प्रभावी प्रतिनिधित्व प्राप्त करने, पूर्व मध्य रेल प्रशासन और उपयोगकर्ताओं के बीच इस रेल द्वारा प्रदत्त सेवा से संबंधित मामलों पर परामर्श के अधिक अवसर उपलब्ध कराने एवं सेवा की दक्षता में सुधार हेतु पूर्व मध्य रेल के मुख्यालय, हाजीपुर में क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति बनायी गयी है । क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति के गठन का उद्देश्य स्टेशनों और गाड़ियों दोनों पर यात्री-सुविधाओं को रेलवे उपयोगर्ताओं के लिए यथासंभव लाभदायक बनाने के लिए सदस्यों के परामर्श से जनमत प्राप्त करने का प्रावधान करना, और इस प्रकार रेलवे प्रशासन को जनमत और आवश्कता के अनुरूप पूर्णतः सही एवं शीघ्र निर्णय लेने में सक्षम बनाना है ताकि रेलवे के पास उपलब्ध संसाधनों का सही दिशा में अधिकतम उपयोग हो सके और बिना अतिरिक्त खर्च के वांछित काम पूरा किया जा सके ।

बैठक में डा. अनुप कुमार केडिया को राष्ट्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति में पूर्व मध्य रेल के प्रतिनिधि के रूप में चयनित किया गया । बैठक में श्री सुबोध कुमार जैन, मनोज कुमार सिंह, दुर्गेश कुमार राय, गुल्लू अंसारी, विद्यासागर, विनोद गुप्ता, डा. कौशलेन्द्र प्रताप, विनय कुमार, देवेन्द्र कुमार जैन, गोविन्द प्रसाद केजड़ीवाल, कुमुद वर्मा, योगेन्द्र प्रसाद सिंह, मोहम्मद काबिर हुसैन, मनीष कुमार, अभिषेक गुप्ता, विक्रम पाण्डेय और आर.यू. सिंह ने भाग लिया ।

पूर्व मध्य रेल के अधिकारियों में प्रमुख मुख्य इंजीनियर श्री जी.एस.तिवारी, मुख्य परिचालन प्रबंधक श्री आर.एस. पाण्डेय, मुख्य वाणिज्य प्रबंधक श्री वी.के. तिवारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. यू. सिंह, मुख्य कार्मिक अधिकारी श्री जे.एस.पी. सिंह, मुख्य संरक्षा अधिकारी श्री दीपक छाबड़ा, मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर श्री एच.के. अग्रवाल, मुख्य यांत्रिक इंजीनियर श्री के.पी. राव, वरिष्ठ उप महाप्रंधक श्री एन. कुमार, मुख्य सुरक्षा आयुक्त श्री नीरज सिन्हा, महाप्रबंधक के सचिव श्री वी.के. सिंह उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here