हर 8 में से एक महिला को ब्रेस्ट कैंसर का खतरा : डॉ. वी. पी. सिंह

0
10

पटना। ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए 11 अक्टूबर यानि रविवार को पटना में वर्चुअल पिंक रन का आयोजना किया जा रहा है। प्रख्यात कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. वी. पी. सिंह ने बताया कि भारतीय महिलाओं में स्तन कैंसर के मामले अधिक सामने आते हैं। हर 8 में से एक महिला को यह कैंसर होने का खतरा है। ब्रेस्ट कैंसर की 4 स्टेज होती है। अगर कैंसर पहली स्टेज यानी शुरुआती अवस्था में है तो मरीज के ठीक होने की उम्मीद 80 फीसदी तक होती है। दूसरी स्टेज में 60 से 70 फीसदी तक ठीक होने की संभावना रहती है। कैंसर की तीसरी या चौथी स्टेज में इलाज थोड़ा कठिन हो जाता है। इसके कुछ लक्षणों को अगर समय पर पहचान लिया जाए तो इलाज आसान हो जाता है। दुनिया भर में हर साल अक्टूबर माह को ब्रेस्ट कैंसर अवेयरनेस मंथ के तौर पर मनाया जाता है। प्रख्यात कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. वी पी सिंह ने बताया कि स्तन में दर्द और बाहों के नीचे गांठ होना भी स्तन कैंसर के संकेत हैं। हालांकि स्तन में हर गांठ कैंसर नहीं होती, लेकिन इसकी जांच करवाना बेहद जरूरी है, ताकि आगे चलकर कैंसर का रूप ना ले। इस रोग से डरे नहीं क्योंकि इसका इलाज संभव है। पहली स्टेज में ही अगर इस रोग की पहचान हो जाती है तो इसे जड़ से खत्म किया जा सकता है।

उन्‍होंने बताया कि बढ़ती उम्र के अलावा हार्मोनल थैरेपी में दी जाने वाली दवाएं, अधिक उम्र में शादी करने के साथ ही अधिक उम्र में बेबी प्लान करना, आनुवांशिकता, खराब जीवनशैली, अल्कोहल लेने से यह कैंसर हो सकता है। स्तन कैंसर का कारण आनुवांशिक भी हो सकता है, लेकिन ऐसा सिर्फ 5-10 प्रतिशत महिलाओं में ही पाया जाता है। धूम्रपान भी इसके कारणों में एक है। डॉ. वी पी सिंह ने आम जनों के हित में आगे और भी महत्वपूर्ण तथ्यों की जानकारी दी आमतौर पर 40 की उम्र के बाद इसकी आशंका बढ़ जाती है। अक्टूबर माह में पिंक वाक नाम से ब्रेस्ट कैंसर के विरूद्ध डॉ. वी पी सिंह के नेतृत्व में पिछले 10 वर्षों से इस जागरूकता अभियान का आयोजन हर वर्ष किया जाता है। कोरोना महामारी के प्रभाव एवं सरकार द्वारा इसके बचाव के लिए दिए गए दिशा निर्देश का पालन करते हुए इस वर्ष भी इस कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअल पिंक रन के नाम से सोशल मिडिया एवं गूगल मेट की सहायता से हो रहा है। कार्यक्रम के आयोजन में कैंसर जागरूकता अभियान की दिशा में कार्य करने वाली अग्रणी संस्था ” आर एस मेमोरियल कैंसर सोसाइटी मुख्य भूमिका में है। समाज कल्याण में सहभागिता देने वाली कुछ प्रमुख संस्था जैसे कि रॉटरी पटना मिड टाऊन, कैंसर अवेयरनेस सोसाइटी, रोटरी पटना ग्रेटर, सोसाईटी ऑफ आनकॉलोजी एंव लायन क्लब पाटलिपुत्र आस्था भी सहयोग दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here