शिक्षा के जरिए छात्र-छात्राओं का भविष्य बना रहे हैं प्रसिद्ध लेखक-साहित्यकार और शिक्षाविद डॉ अरुण प्रकाश ढौंडियाल

0
32

राजू बोहरा नई दिल्ली / तेवरऑनलाइन.डॉटकॉम

उत्तराखंड के हरिद्वार जिले की तहसील भगवानपुर में स्थित ‘’माउंटेनियर्स एकेडमी’’ की शुरुआत दो हजार ग्यारह में हुई थी जो आज एक इंटरमीडिएट कॉलेज का रूप ले चुका है। इसके संस्थापक-संरक्षक एवं भूस्वामी शिक्षाविद एवं स्थापित लेखक-साहित्यकार डॉ अरुण प्रकाश ढौंडियाल है। अंग्रेजी माध्यम के साथ चलने वाले इस विद्यालय में औसतन तेहत्तर प्रतिशत अल्पसंख्याक परिवारों से आने वाले शिक्षार्थी रहे हैंl फीस स्कूल का स्ट्रक्चर निकटवर्ती सभी पब्लिक स्कूलों से बहुत कम है लेकिन स्थानीय अभिभावकों, समाजसेवी वर्गों एवं  जन प्रतिनिधियों का मानना है कि यहां का शिक्षा का स्तर सर्वोत्तम है।

आश्चर्य की बात यह है कि डॉक्टर अरुण प्रकाश ढौंडियाल संस्था की वित्त व्यवस्था को संतुलित करने के लिए अपनी पेंशन का प्रयोग करते हैं। विद्यालय में वर्ष भर अनेक एक्टिविटीज चलती रहती है। स्वतंत्रता दिवस, जय जवान जय किसान दिवस, शिक्षक दिवस आदि के अतिरिक्त सफाई अभियान, प्रदूषण मुक्ति अभियान, ईद मिलन, रक्षाबंधन, होली मिलन दिवाली उत्सव, मेहंदी प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, वाद-विवाद प्रतियोगिता,  लेखन कंपटीशन, भाषण प्रतिभा आयोजन, कवि सम्मेलन, नुक्कड़ नाटक इत्यादि के उपरांत वार्षिक महोत्सव भी  मनाया जाता है।

इन सभी क्रियाकलापों में धार्मिक समभाव, सांप्रदायिक सानिध्य, सामाजिक उन्नयन, नैतिक प्रजाकता, चरित्रिक संशोधन का प्रशिक्षण दृष्टिगत होता है। इलाके में यहां के छात्र अलग से पहचाने जाते हैं यही पहचान विद्यालय परिवार की संचित पूंजी है। ‘’माउंटेनियर्स एकेडमी’ के संस्थापक-संरक्षक डॉ अरुण प्रकाश ढौंडियाल देश के एक जानेमाने प्रसिद्ध साहित्यकार-लेखक और शिक्षाविद है।

डॉ अरुण प्रकाश ढौंडियाल द्वारा संचालित ‘’माउंटेनियर्स एकेडमी’’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here