25 C
Patna
Tuesday, December 7, 2021

अदालत की हर ईंट पैसा मांगती है

1
अविनाश नंदन शर्मा, नई दिल्ली कानून, न्याय, व्यवस्था और समानता जैसे शब्दों से गढ़ी गई अदालत की मजबूत दीवारें कभी-कभी बहुत ही खोखली मालूम पड़ती...

राजद ने अभी एक भी उम्मीदवार तय नहीं किया गया है...

0
पटना। राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह के हवाले से कहा है कि बिहार...

सनद है ? “भारत सोने की चिड़िया था”

5
भरत तिवारी// हालिया राजनीति में राजनीति के ना चाहते हुये भी जो बदलाव हो रहा है उसे सलाम ... अब बदलाव – बदलाव यह कि...

सहार के कोरन डिहरी गांव में इंदूभूषण की सभा कम शक्ति...

1
सरकार,सुनील और हुलास के प्रति था अक्रोश सहार के कोरन डिहरी गांव में इंदूभूषण की सभा जमकर हुई नीतीश सरकार के खिलाफ नारेबाजी! यह रणवीर सेना के...

जाति मिटे तो गरीबी हटे

0
डॉ. वेदप्रताप वैदिक                  जातीय गणना के इरादे को देश सफल चुनौती दे रहा है| जबसे 'सबल भारत' ने 'मेरी जाति हिंदुस्तानी' आंदोलन छेड़ा है,...

मुंबई के लोकल रेलवे स्टेशनों के पास धड़ल्ले से बिक रही...

0
तेवरआनलाईन, मुंबई मुंबई के लगभग सभी लोकल रेलवे स्टेशनों के साथ-साथ गली चौराहों पर पाइरेटेड और ब्लू फिल्मों की सीडी धड़ल्ले से बिक रही हैं।...

अपने गांवों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए झारखंड की एक लड़की...

0
शिरीष खरे, मुंबई अपने ही देश में कुछ कर गुजरने के जज्बे ने लोहरदगा की मनोरमा एक्का को  दोबारा उनकी जमीन से जोड़ दिया है। झारखण्ड की...

इंसानी जिंदगी को ठोकर मार रही है देश की राजनीति

भारत में अंग्रेज एक व्यापारी बन कर घुसे। यहां के शासकों के आगे सर झुका झुका कर व्यापार करने का परमिट लिया। राजे रजवाड़ों...

औसत से कम बारिश के बावजूद बिहार में बाढ़ तांडव क्यों...

1
23 अगस्त .... सावन की अंतिम सोमवारी के दिन जब हजारो आस्थावानों ने कुशेश्वर स्थान मंदिर में जलाभिषेक किया तो उन्हें सहसा यकीन नहीं...

वो दाने दाने के लिए तड़प कर मरी

2
जयनगर, इसे आप क्या कहेंगे. समाज का जीते मर जाना या कुछ और। इससे ज्यादा शर्म की बात और क्या हो सकती है कि एक बूढ़ी औरत दाने दाने के लिए छटपटाती रही, पर उस निराश्रित बेवा को किसी को किसी ने एक गिलास पानी तक नहीं पिलाया।