फिल्म व टीवी पत्रकार राजू बोहरा का नया धारावाहिक “इश्क में लुट गये यार”

0
25
इश्क में लुट गये यार का एक द़श्य
इश्क में लुट गये यार का एक द़श्य

तेवरआनलाईन, नई दिल्ली

लंबे समय तक फिल्म व टीवी पत्रकारिता में अपने जलवे बिखरने के बाद फिल्म पत्रकार राजू बोहरा अब धारावाहिक के निर्माण के क्षेत्र में मजबूती से कदम रख चुके हैं। इनके द्वारा निर्मित हास्य और मनोरंजन से भरपूर धारावाहिक इश्क में लुट गया यार का प्रसारण डीडी उर्दू चैनल पर प्रत्येक शनिवार दोपहर 12.00 बजे और शाम 7.30 बजे किया जा रहा है, जिसके देखकर दर्शक लोटपोट हो रहे हैं। कुछ वर्ष पूर्व प्रसार भारती ने देशवासियों और उर्दू प्रेमियों के लिए ‘डी.डी. उर्दू’ चैनल का शुभारंभ किया था, जिसका उद्धाटन सोनिया गांधी और देश के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने किया था। डीडी के इस उर्दू चैनल की जिम्मेदारी उर्दू के अच्छे जानकर रहे दूरदर्शन के उप-महानिदेशक फ़ैयाज शहरयार को सौंपी गई और शहरयार बहुत हद तक आवाम में इस चैनल को लोकप्रिय बनाने में सफल भी रहे हैं। दूरदर्शन के इस उर्दू चैनल की लोकप्रियता भी धीरे-धीरे बढ़ रही है, क्योंकि इस चैनल पर इन दिनों कई अच्छे नये उर्दू धारावाहिक दिखाये जा रहे हैं, जिनमें से एक है हाल ही में शुरू हुआ कामेडी धारावाहिक ‘‘इश्क में लुट गए यार’’ जो प्रत्येक शनिवार दोपहर 12.00 बजे और शाम 7.30 बजे दिखाया जा रहा है। हास्य-मनोरंजन और कामेडी से भरपूर ‘‘इश्क में लुट गए यार’’ नामक इस कामेडी धारावाहिक का निर्माण ‘आर.बी. कम्युनिकेशन’ के बैनर तले मशहूर फिल्म व टीवी पत्रकार राजू बोहरा ने किया और इसके निर्देशक हैं फिरोज़ खान जो इससे पहले दूरदर्शन के ‘‘जज्बात’’ जैसे कई चर्चित धारावाहिक निर्देशित कर चुके हैं। इस उर्दू धारावाहिक को लिखा है मशहूर लेखक योगेश योगा ने जो ‘एक महल हो सपनो का’, ‘शक्तिमान’, ‘संजोग’, ‘मीत मिला दे रब्बा’, ‘राखी’, ‘कांच’ और ‘आठवां वचन’ जैसे दर्जनों लोकप्रिय धारावाहिक भी लिख चुके हैं। धारावाहिक ‘‘इश्क में लुट गए यार’’ में टीवी के जिन चर्चित कलाकारों ने मुख्य किरदार निभाये हैं उनमें महेश गहलौत, सुनीता चैहान, इबरत खान, रितू चैहान, सीमा और अखिल श्रीवास्तव हैं। धारावाहिक का शीर्षक गीत मंथन ने लिखा है, और उसे कुमार सपन के संगीत निर्देशन में शहजाद और पुष्पलता ने गया है। तेरह कड़ियों में बटे इस कामेडी धारावाहिक की कहानी छह मुख्य पात्रों पके इर्द-गिर्द घूमती है। धारावाहिक के ऐपिसोड डायरेक्टर मिशबा हाशमी और राजू बोहरा है। इस संबंध में पूछे जाने पर राजू बोहरा कहते हैं, आज लोग विभिन्न तरह की समस्याओं से जूझ रहै हैं। ऐसे में कामेडी का खुराक उनके लिए जरूरी है। हंसने-हंसाने से लोगों का स्वास्थ्य बना रहता है। इस धारावाहिक को परिवार के सभी सदस्य एक साथ बैठकर देख सकते हैं। मुझे यकीन है कि यह उन्हें लोटपोट कर देगा। परेशान चेहरे पर यदि मैं थोड़ी सी मुस्कान ला पाता हूं तो इसे मैं अपनी कामयाबी मानूंगा। फिल्म और टीवी पत्रकारिता की दुनिया में राजू बोहरा एक जाने माने नाम है। देश की विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में मनोरंजन जगत से जुड़े विषयों पर लगातार लिखते रहे हैं। यह सिद्दत से एक अच्छे हास्य धारावाहिक की कमी को महसूस कर रहे थे, और अंत में खुद कमर कस ली है। पत्रकारिता से धारावाहिक निर्माण की दुनिया में कदम रखने पर तेवरआनलाईन राजू बोहरा को तहे दिल से बधाई देता है और यह उम्मीद करता है कि वह अपने क्रिएटिव टैलेंट का इस्तेमाल लोगों को स्वस्थ्य मनोरंजन प्रदान करने में करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here