भिखारी ठाकुर की 125 वी जयंती मनाई गई

0
29

वीरेन्द्र कुमार//

बहुत ही हर्ष की बात है कि भोजपुरी के नाट्य सम्राट और शेक्सपीयर भिखारी ठाकुर की 125 वी जयंती मंगलवार को मनाई गई।  इस अवसर पर उनके गाँव कुतुबपुर छपरा बिहार में उनके नाटक का मंचन चला , शाम 4 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जो देर रात तक चलता रहा साथ ही साथ भिखारी ठाकुर सम्मान भी दिया गया।  यह सम्मान स्वर कोकिला शारदा सिन्हा, लोकगायिका मालिनी अवस्थी , गायिका खुशबू उत्तम सहित अन्य भोजपुरी कलाकारों को समर्पित किया गया।
जनकवि  भिखारी ठाकुर लोक साहित्य व संस्कृति महोत्सव  2012 के इस पावन बेले पर उत्तर बिहार की चर्चित ख्याति प्राप्त भोजपुरी गायिका खुशबू उतम को भिखारी ठाकुर सम्मान से नवाजा गया। जिस सम्मान को पाकर खुशबू उतम खासा उत्साहित हुई और वे भोजपुरी धरोहर को और आगे बढ़ाने के लिय प्रयासरत्न  है । मौके पर उपस्थित भोजपुरी सम्राट सह विधायक विनय बिहारी जी ने उन्हें सम्मानित किया ।

Previous articleअपनी ही सरजमीं पर महफूज नहीं हैं बेटियां
Next articleबाइट्स प्लीज (उपन्यास भाग-12)
सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here