रेलकर्मियों के बच्चों को पुरस्कार

0
16

तेवरआनलाइन, पटना

एक कार्यक्रम में महिला कल्याण संगठन द्वारा महेन्द्रू स्थित अधिकारी क्लब में रेलकर्मचारियों के वैसे 48 बच्चों को पुरस्कृत किया गया जिन्होंने दशमी एवं बारहवीं कक्षा की परीक्षा में 85 प्रतिषत से अधिक अंक प्राप्त किये थे । पूर्व मध्य रेल महिला कल्याण संगठन की अध्यक्ष श्रीमती साधना श्रीवास्तव ने इस अवसर पर उपस्थित बच्चों को बधाई देते हुये उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने सभी बच्चों को पुरस्कार स्वरूप एक-एक आक्सफार्ड डिक्सनरी भेंट किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक के.के.श्रीवास्तव ने इस अवसर पर कहा कि बच्चे कल के भविष्य हैं। उन्हें मार्गदर्शन कराना एवं एक जिम्मेवार नागरिक बनाना हमारा फर्ज बनता है। सभी पुरस्कृत बच्चों के उज्जवल भविष्य की हम कामना करते हैं तथा वो बराबर आगे बढ़ें यह मेरी शुभकामना है।

Previous articleलुबना (फिल्म स्क्रीप्ट, भाग-8)
Next articleजितना लूटना है लूटो, लेकिन शांति से
सदियों से इंसान बेहतरी की तलाश में आगे बढ़ता जा रहा है, तमाम तंत्रों का निर्माण इस बेहतरी के लिए किया गया है। लेकिन कभी-कभी इंसान के हाथों में केंद्रित तंत्र या तो साध्य बन जाता है या व्यक्तिगत मनोइच्छा की पूर्ति का साधन। आकाशीय लोक और इसके इर्द गिर्द बुनी गई अवधाराणाओं का क्रमश: विकास का उदेश्य इंसान के कारवां को आगे बढ़ाना है। हम ज्ञान और विज्ञान की सभी शाखाओं का इस्तेमाल करते हुये उन कांटों को देखने और चुनने का प्रयास करने जा रहे हैं, जो किसी न किसी रूप में इंसानियत के पग में चुभती रही है...यकीनन कुछ कांटे तो हम निकाल ही लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here