23 C
Patna
Wednesday, October 20, 2021
Home जर्नलिज्म वर्ल्ड सम्पादकीय पड़ताल

सम्पादकीय पड़ताल

बिहार की राजनीती में गठबंधन और मान-मनौव्वल

0
विनायक विजेता, वरिष्ठ पत्रकार. * नरेन्द्र मोदी को बिहार में चुनाव प्रचार न करने का फेक सकते हैं पासा *  इस शर्त पर गठबंधन में हो...

राजदीप पर हमले से स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी भी शर्मसार हुई होगी

0
आलोक नंदन न्यूयार्क के मेडिसन स्कवायर गार्डन में एक तरफ ‘भारत भाग्य विधाता’ की भूमिका अख्तियार कर चुके पीएम नरेंद्र मोदी की भव्य स्वागत में...

राहें कब आसान थी !

0
अनिता गौतम बिहार की राजनीति इन दिनों दो धुरी के इर्दगिर्द घूम रही है। एक ओर केंद्र में मोदी के नेतृत्व में काबिज होने के...

राहुल गांधी : अमूल बेबी या कांग्रेस के अभिमन्यु ?

1
भाजपा ने कभी राहुल गांधी को अमूल बेबी कहा था। कांग्रेस द्वारा मिशन 2014 के लिए कांग्रेस समन्वय समिति का अध्यक्ष बनाये जाने के...

FDI: More good than Bad ?

7
Dr. M Faiyazuddin, PG Teacher at Aligrah Muslim University, FDI means an investment abroad, usually where the company being invested in is controlled by the foreign...

नीतीश के मायने !

4
अनिता गौतम सारी दुनिया एक तरफ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक तरफ। फिलहाल की स्थिति और उनकी बिहार के लिए समर्पित कार्यशैली...

शिक्षकों को लेकर सांप और छछूंदर की स्थिति में नीतीश हुकूमत

नियोजित शिक्षकों (ठेकेदारी प्रथा पर रखे गये) को लेकर बिहार में नीतीश सरकार की स्थिति सांप और छछूंदर वाली हो गई है, न उगलते...