धारावाहिक “सरस्वतीचंद्र” में सशक्त निर्देशन को देखकर अरविन्द बब्बल के निर्देशन के कायल हुये संजय लीला भंसाली

0
39

राजू बोहरा नयी दिल्ली,

छोटे पर्दे के दर्शकों के लिए निर्देशक अरविन्द बब्बल का नाम किसी खास परिचय का मोहताज नहीं है, वह पिछले करीब पच्चीस वर्षो से धारावाहिकों के निर्देशन में लगातार सक्रीय हैं और प्राइवेट चैनलों से लेकर दूरदर्शन तक के लिए दर्जनों लोकप्रिय धारावाहिकों का सफल निर्देशन कर चुके हैं।  अरविन्द बब्बल के बारे में अगर यह कहा जाये कि वो वर्तमान दौर के टेलीविजन धारावाहिकों के टॉप फाइव लोकप्रिय डायरेक्टरों में से एक हैं तो शायद कुछ गलत नहीं होगा। अरविन्द बब्बल पिछले आठ- दस वर्षो से देश के तीन बड़े मुख्य प्राइवेट चैनल्स जी टीवी, स्टार प्लस, और सोनी टीवी के शो सेटअप डायरेक्टर के रूप में जाने जाते हैं। गौरतलब है कि आज के दौर में किसी भी नए धारावाहिक को दर्शकों तक पहुचाने में सबसे बड़ी भूमिका शो सेटअप डायरेक्टर की होती है।

अरविन्द बब्बल ने भारतीय टेलीविजन के बतौर सेटअप शो डायरेक्टर जिन बड़े शो को सेटअप किया है उनमें जी टीवी के सोभा सोमनाथ की’’, “हां मैं घर घर खेली’’ , “अफसर बिटिया” , “मेरा नाम करेगी रोशन” , स्टार प्लस के केसर,  “मितवा’’, सोनी टीवी के” “ दुर्गेश नंदिनी’’, ’’हम लडकियां’’, और नाइन एक्स का जिया जले’’ जैसे चर्चित शो शामिल हैं। एक डायरेक्टर के तौर पर भी उन्होंने विभिन्न चैनल्स के अनेक लोकप्रिय धारावाहिकों का सफल निर्देशन किया है जिनमें स्टार प्लस के विरासत” , “कुमकुम, “कहता है दिल, जी टीवी के छोटी माँ, “आती रहेगी बहारे, “कर्तव्य, “आवाज दिल दे दिल तक, सोनी का कही दिया जले कही जिया’’, सब टीवी का दिल चाहता है, और दूरदर्शन का साफ’’ जैसे प्रसिद्ध धारावाहिक मुख्य रूप से शामिल हैं। अरविन्द बब्बल आजकल टेलीविजन के सबसे बड़े शो यानी बॉलीवुड के सुप्रसिद्ध फिल्मकार संजय लीला भंसाली के पहले टीवी शो सरस्वतीचंद्र का निर्देशन कर रहे हैं जिसका प्रसारण इन दिनों सोमवार से शुक्रवार तक स्टार प्लस पर शाम 7.30 बजे और दूरदर्शन के नेशनल चैनल पर प्राइम टाइम में रात 9.30 बजे एक साथ हो रहा है। संजय लीला भंसाली का यह बहुचर्चित पहला टीवी शो लोकप्रिय गुजराती उपन्यास सरस्वतीचंद्रपर आधारित है जिसे गोवर्धनराम माधवराम त्रिपाठी ने लिखा है। यह 20वीं सदी के शुरूआती दिनों की कहानी है और दो परिवारों के इर्द-गिर्द बसी है।

अरविन्द बब्बल द्वारा निर्देशित संजय लीला भंसाली का यह दिलचस्प शो प्रसारण के कुछ सप्ताह में ही टीवी दर्शकों में खासा लोकप्रिय हो गया है। टैम रेटिंग के मुताबिक संजय लीला भंसाली का यह नया शो सरस्वतीचंद्रटॉप 10 में अपनी जगह बनाने में कामयाब हो गया है। सरस्वतीचंद्र के सशक्त निर्देशन को लेकर इसके निर्देशक अरविन्द बब्बल भी बेहद उत्साहित हैं। संजय लीला भंसाली के साथ काम करने के अपने अनुभव के बारे में अरविन्द बब्बल कहते हैं, ये मेरे लिए एक बड़ी उपलब्धि से कम नहीं है कि में उनके पहले शो को डायरेक्ट कर रहा हूँ। एक डायरेक्टर के तौर पर मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है और अभी भी सीख रहा हूँ। भारतीय फिल्म जगत में संजय लीला भंसाली जी का योगदान अतुलनीय है। उनके द्वारा बनाई गई फिल्मों देवदास,  “ब्लैक, और हम दिल दे चुके सनम’’ जैसी तमाम फिल्मों को हिंदुस्तानी दर्शक कभी भुला नहीं पायेगे।

सरस्वतीचंद्र में अभिनेता गौतम रोडे अभिनेत्री जेनिफर विंगेट के साथ मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। इनके अलावा अभिनेत्री मोनिका बेदी भी एक खास किस्म की नाकारात्मक भूमिका निभा रही हैं।  धारावाहिकों के बाद अरविन्द बब्बल का अगला लक्ष्य फिल्म निर्देशन करने का है जिसके लिए उन्होंने प्रयास भी शुरू कर दिया है। उन्हें उम्मीद है कि छोटे पर्दे की तरह बड़े पर्दे पर भी उन्हें एक दिन सफलता जरुर मिलेगी। अरविन्द बब्बल का मानना है कि धारावाहिक सरस्वतीचंद्रउनके निर्देशन कैरियर के लिए टर्निंग पॉइंट साबित होगा। मशहूर फिल्म निर्देशक लेख टंडन के साथ अपने कैरियर की शुरुआत करने वाले अरविन्द बब्बल ने अपनी मेहनत और लगन से यह मुकाम हासिल किया है। धारावाहिक सरस्वतीचंद्रकी शूटिंग अरविन्द बब्बल इंडिया के अलावा दुबई की खूबसूरत लोकेशनों पर भी कर रहे हैं। अरविन्द बब्बल 2006 से 2010 तक टेलीविजन के सबसे लोकप्रिय अवार्ड्स आई टी ए, “इंडियन टेली अवार्ड्स, और सन्सुइ टेली अवार्ड्स में लोकप्रिय धारावाहिकों विरासत, “दुर्गेश नंदिनी, “मितवा, “मेरा नाम करेगी रोशन, के शानदार निर्देशन के लिए लगातार पांच साल तक बेस्ट डायरेक्टर के लिए नोमिनेट होते रहे हैं। जो बतौर डायरेक्टर अरविन्द बब्बल के लिए एक बड़ी उपलब्धि है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here