भाजपा राज्य में सत्ता के लिए व्याकुल : विजय कुमार चौधरी

0
16

भाजपा नेता और विशेषकर सुशील मोदी सत्ता से बाहर होने के बाद अपनी व्याकुलता छुपा ही नहीं पा रहे है।  पिछले कई दिनों से उनके बयान इसी बैचेनी को दिखा रहे है। राज्य सरकार के कार्यक्रमों में इकठ्ठा हुई भीड़ से उन्हें इस कदर बैचेनी होती है की वो उसे छुपा भी नहीं पा रहे है।  वो इस स्तर तक जा चुके है कि सरकार के हर कार्यक्रम में आयी हुई भीड़ को वो राज्य सरकार की अलोकप्रियता समझते है। जहा तक कैमूर में हुए कार्यक्रम की बात है, पहले तो तारचंडी मंदिर में हुआ समारोह राज्य सरकार के एक नयी पहल को दर्शाता है।  राज्य सरकार राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए हर संभव कदम उठा रही है।  विपक्ष को चाहिए कि वो इस पहल में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाए। इससे हमें राज्य को पर्यटन के नक़्शे में स्थापित करने में मदद मिलेगी। यह सत्य  है कि मंदिर में हुई घटना दुखद है मंत्री विनय बिहारी ने कहा कि मंदिर में प्रशासन की उम्मीद से ज्यादा भीड़ आई हुई थी और इस कारण से प्रशासन भीड़ को इकठ्ठा करने में असफल रहा।  मंत्री ने कहा है कि प्रशासन को ज्यादा भीड़ की उम्मीद रखते हुए व्यवस्था करनी चाहिए।  तराचण्डी  में आई  हुई भीड़ सरकार की अलोकप्रियता नहीं बल्कि लोकप्रियता की द्योतक है। इस घटना पर जिस तरह की राजनीति भाजपा कर रही है वो उनकी छटपटाहट को ही दिखाता है।  बेहतर होता कि विपक्ष इन मुद्दों पर एक सकारात्मक भूमिका निभाते हुए इन महोत्सवों को बेहतर करने में अपनी जिम्मेदार भूमिका निभाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here