मुंगेर में ठगी के मामले में भाजपा नेता को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
362
  • भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बीएम अमरेश को ओडिशा पुलिस ने ठगी के मामले में मुंगेर से किया गिरफ्तार
  • बिहार सहित रायगढ़ छत्तीसगढ़ में कई अन्य मामले है पूर्व से दर्ज
  •  मेडिकल जांच और मुंगेर न्यायालय में उपस्थापना के बाद आरोपी को अपने साथ ओडिशा ले गई पुलिस

लालमोहन महाराज, मुंगेर
मुंगेर में ठगी के एक मामले में ओडिशा से आई तीन सदस्यीय पुलिस टीम ने मुंगेर जिले के नौवागढ़ी महेशपुर निवासी सह बिहार भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बीएम अमरेश को मुंगेर पुलिस के सहयोग से बुधवार की रात्रि महेशपुर गांव स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया।
ओडिशा पुलिस टीम ने मुंगेर व्यवहार न्यायालय में गिरफ्तार भाजपा नेता को उपस्थापना कराने के बाद अपने साथ देर शाम ओडिशा ले गई। पुलिस सूत्रों की मानें तो इसके अलावा भी बिहार और रायगढ़ छत्तीसगढ़ में कई अन्य थानों में भी भाजपा नेता के खिलाफ धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं।
भाजपा नेता पूर्व में भी धोखाधड़ी के मामलों में जेल जा चुके हैं। ठगी के मामले में भाजपा नेता बीएम अमरेश की गिरफ्तारी से भाजपा की खूब जगहंसाई हो रही है। गिरफ्तारी के बाद राजद और जदयू सहित महागठबंधन दल के नेता गुरुवार को खूब चुटकियां लेते दिखे। बिहार भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बीएम अमरेश की गिरफ्तारी उड़ीसा राज्य के जिला- संबलपुर, थाना – ऐंथपाली में दर्ज हुए केस संख्या 124/23 के मामले में हुई है। बताते चलें कि इस मुकदमा के नामजद अभियुक्त बिहार भाजपा के प्रदेश कार्यकारणी सदस्य बृजेन्द्र मोहन अमरेश ( बीएम अमरेश ) (45) पिता रामजीवन प्रसाद , नौवागढ़ी महेशपुर, थाना -मुफस्सिल, जिला-मुंगेर, राज्य-बिहार को गिरफ्तार करने तीन सदस्यीय ओडिशा पुलिस की टीम बुधवार को मुंगेर पहुंची और मुंगेर पुलिस से गिरफ्तारी में सहयोग मांगा। मुंगेर पुलिस के सहयोग से बीती बुधवार देर रात्रि ओडिशा पुलिस ने भाजपा नेता बीएम अमरेश को उनके नौवागढ़ी महेशपुर स्थिति घर से किया गिरफ्तार किया । ओडिशा पुलिस के एसआई निलेंद्र विश्वास ने बताया कि ऐनथापाली थाना क्षेत्र के निवासी 31 वर्षीय संबत सिशोवन प्रधान, पिता संतोष कुमार प्रधान, जो एनएलसी इंडिया लिमिटेड में कार्यकारी अभियंता/विद्युत के रूप में कार्यरत है । ठगी के शिकार अनुगुलियापाड़ा थाना- ऐंथपाली में उपस्थित हो लिखित आवेदन दिया था कि बीएम अमरेश ( ब्रजेंद्र मोहन अमरेश ) से दोस्ती हुई थी और उसके बाद उसने 06 महीने में पूरी रकम वापस करने के वायदे के साथ व्यवसाय के लिए कुछ पैसे के लिए उनसे संपर्क किया और रुपये ले लिए। 23,65,000/- ( तेईस लाख पैंसठ हजार रुपये) वो भी ऑनलाइन के माध्यम से लिया । पर उसे नही लौटाया। जिसको लेकर उसने थाना में केस दर्ज कराया था । बीएम अमरेश के द्वारा उसके साथ धोखाधड़ी किया गया और अब तक पैसा नही लौटाया है । जिसके बाद उसने थाना में केस दर्ज करवाया और जांच के दौरान मामला सही पाया गया । जिसको लेकर उड़ीसा पुलिस मुंगेर पहुंच उसे गिरफ्तार कर लिया। बताते चलें कि धोखाधड़ी के मामलों के आरोपी भाजपा नेता बीएम अमरेश को गिरफ्तार करने के लिए उङीसा पुलिस टीम के साथ मुफस्सिल थानाध्यक्ष दलजीत झा अपने साथ लगभग पांच गाङी पुलिस बल के साथ महेशपुर पहुंचे थे। पुलिस सूत्रों की मानें तो भाजपा नेता बीएम अमरेश पर बिहार सहित रायगढ़ ,छत्तीसगढ़ में धोखाधड़ी के कई मामला है दर्ज हैं। जिसमें बिहार के खगङिया थाना कांड संख्या- 155/ 2014 तथा मुंगेर के कोतवाली थाना कांड संख्या – 158/2016 के अलावा रायगढ़, छत्तीसगढ़ के अन्य मामले शामिल हैं। खगङिया में नौकरी लगाने के नाम पर लगभग नौ लाख रुपए की ठगी की थी। मुंगेर कोतवाली थाना में दर्ज मामला जमीन से जुड़ा हुआ है। नौवागढ़ी में बीएम अमरेश ने एक ही जमीन को दो लोग क्रमशः शिवनन्दन साव और कमल नयन शर्मा के हाथों बेचकर धोखाधड़ी किया था। जमीन का यह मामला लगभग 18 लाख रुपए से जुङा हुआ है। साथ ही इस मामले में गिरफ्तार बीएम अमरेश ने बताया कि उसे एक साजिश के तहत फंसाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here