संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 को लेकर गोष्ठी में बिहार में संगठन को मजबूत करने पर जोर

0
48

युवाओं, महिलाओं और ग्रामीणों तक पहुंच बनाने की रणनीति पर हुई चर्चा

पटना। बिहार में विस्तार और 23 जनवरी को व्यापक स्तर पर जनता पार्टी की स्थापना दिवस मनाने के उद्देश्य से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नौशाद की अध्यक्षता में एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस संगोष्टी का संचालन प्रदेश प्रवक्ता मोहन कुमार ने किया।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष नौशाद खान ने कहा कि संगठन महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश में काफी मजबूत है। हम लोगों को बिहार केंद्रित करके काम करने की जरूरत है। सबसे पहला काम है संगठन को लोगों से जोड़ना। जेपी के संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 को जब तक लोग समझेंगे नहीं, जानेंगे नहीं तो फिर जुड़ेंगे कैसे ? उन्होंने कहा कि जेपी आंदोलन में भाग ले चुके जेपी सेनानियों से बात चल रही है। वे लोग भी इस आंदोलन से जुड़ने की इच्छा जाहिर कर रहे हैं। कुछ पंजीकृत जेपी सेनानी हैं और कुछ ऐसे हैं जिन्होंने लोकनायक जय प्रकाश के आंदोलन पर विभिन्न स्तरों पर सक्रिय तो हुये थे लेकिन गुमनाम रह गये। जेपी के ऐसे गुमनाम जेपी सेनानियों की पहचान की जा रही है,और उन्हें इस आंदोलन से जोड़ने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।

इस अवसर पर प्रदेश प्रवक्ता मोहन कुमार ने संपूण क्रांति पार्ट-2 आंदोलन से युवाओं को खासतौर से जोड़ने पर बल देते हुये कहा कि बिना के युवाओं को जोड़े इस आंदोलन की कल्पना नहीं की जा सकती है। इसके लिए जरूरत है विश्वविद्यालयों में इसकी गतिविधियों की शुरुआत की कोई सटीक योजना बनाकर उस पर काम काम करने की जरूरत है। आज का युवा अपना ज्यादातर समय इंटरनेट की दुनिया में व्यतीत करता है। उन तक जेपी के सिद्धांतों और आंदोलन के उद्श्यों को व्यवस्थित तरीके से ले जाने की जरूरत है।

सुबोध कुमार ने कहा कि संगठन को पंचायत स्तर तक ले जाने की जरूरत है। इसके साथ ही गांवों तक ले जाना होगा। आज भी गांवों में बड़ी संख्या में जेपी के फोलोवर्स हैं। उनके सामने जब जेपी का जिक्र होता है तो उनके मन में इस बात की कसक जरूर उठती है कि जेपी के जिस आंदोलन को अपने लक्ष्य तक पहुंचना था वहां तक नहीं पहुंच सका। वे लोग मानसिक तौर पर जेपी के सपनों को लेकर संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 के लिए तैयार हैं। बस जरूरत उनसे संपर्क करने की है। संगठन गांव स्तर पर तेजी से खड़ा हो सकता है। जेपी के सिद्धांतों को लेकर गांव तक पहुंच बनानी होगी फिर उन्हें संगठन से जोड़ना होगा।

वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद दत्त ने जेपी आंदोलन के दिनों को याद करते हुये कहा कि उस समय लोग इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए कई स्तर पर सक्रिय थे। सभी को साथ जोड़ने की जरूरत है। लोग व्यवस्था परिवर्तन चाह भी रहे हैं। जेपी आंदोलन में व्यवस्था परिवर्तन की बात हुई थी। एक बार फिर उस लक्ष्य की जरूरत है, लेकिन इसे नये सिरे से करना होगा।

वरिष्ठ पत्रकार मुकेश महान ने संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 से महिलाओं को जोड़ने पर जोर देते हुये कहा कि जेपी की संपूर्ण क्रांति में महिलाओं की शानदार भागीदारी थी। महिलाएं ढोल और नगाड़ें लेकर सड़कों को पर संपूर्ण क्रांति की गीत गाती थीं। संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 में महिलाओं की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चत करने की दिशा में भी मजबूत से काम करने की जरूरत है।  गोष्टी के दौरान ही जनता पार्टी के आई.टी. पमुख पी.सी. शर्मा ने जनता पार्टी बिहार के नाम से फेसबुक पर पार्टी सक्रियता दर्ज कर दी। पी.सी.शर्मा ने कहा कि संपूर्ण क्रांति पार्ट-2 आंदोलन से जुड़ने के लिए लिए फेसबुक के जरिये भी संपर्क कर सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here