सऊदी अरब में इलाज के लिए तरस रहा है कारोना संक्रमित रामा शंकर पांडेय, पत्नी ने लगाई भारत सरकार से गुहार

0
61
रामा शंकर पांडेय

पटना। दरभंगा के सिंगवाड़ा पुलिस थाने के रामपुरा गांव के रहने वाले रामा शंकर पांडेय कारोना से संक्रमित होने के बाद सऊदी अरब के दमान शहर मौत से जूझ रहे हैं। वहां पर उनका सही से इलाज भी नहीं हो रहा है। अपने पति की दुर्दशा से व्यथित राम शंकर की पत्नी साधना पांडेय ने भारत सरकार से अपील की है कि सऊदी अरब में उनके पति के बेहतर इलाज के लिए सरकार पहल करे। साधना पांडेय ने बताया कि रामा शंकर सऊदी अरब के दमन शहर में प्रोस्थेटिक्स और आर्थोटिक्स टेक्नोलॉजी सेंटर में कार्यरत थे। 27 जून को यह कन्फर्म हो गया कि वह कोविड 19 से संक्रमित है। उसके गले में कफ भरा हुआ था और वह तेज बुखार से जूझ रहा था। उसे दमन शहर के उसके कमरे में मरने के लिए अकेला छोड़ दिया गया। इस वक्त लखनऊ में अपने बच्चों के साथ रह रही उसकी उसकी पत्नी साधना पांडेय का कहना है कि उसकी स्थिति बद से बदत्तर होती जा रही है। यहां तक कि वह फोन पर अपने परिवार से बात भी नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने भारत के अनुरोध किया है कि दमान में उसे तत्काल उचित चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए सरकार पहल करे। उन्होंने बताया कि दमान बेड की अनुपलब्धता की वजह से उसके पति को अभी तक किसी अस्पताल में दाखिला नहीं मिला है। उसके कमरे भी किसी भी तरह की मेडिकल सुविधा नहीं मिल रही है। चिकित्सा के अभाव में वह कुछ खा-पी भी नहीं पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि सऊदी अरब की स्वास्थ्य महकमे ने सिर्फ यह कह कर कि मास्क का इस्तेमाल करे अपना पल्ला झाड़ लिया है। अभी तक उसके पति तक किसी भी तरह की मेडिकल सुविधा नहीं पहुंची है। उसने बताया कि उसके पति जीजीसी कंपनी के प्रशासनिक विभाग में कार्यरत थे। एमबीए करने के बाद वह 15 साल पहले ही सऊदी अरब चले गये थे। बीच-बीच में वह अपने परिवार से मिलने भारत आते रहते रहते थे। उसने भारत से सरकार से अनुरोध किया है कि उसके पति का सऊदी अरब में सही तरीके से इलाज हो और फिर रिपोर्ट के नेगेटिव आने के बाद उसे भारत भेजने की समुचित व्यवस्था की जाये।