31 C
Patna
Tuesday, June 28, 2022
Home लिटरेचर लव

लिटरेचर लव

इस्लाम की बेहतरीन समझ देता “अंडरस्टैंडिंग इस्लाम”

0
दुनिया में इस्लाम को देखने और समझने के दो नजरिये मौजूद हैं, एक इस्लामिक और दूसरा गैर इस्लामिक। इस्लाम के दायरे में जीवन व्यतीत...

नब्बे के हुये नामवर

0
जब आइना झूठ बोलेगी तो नामवर पैदा होगा आलोक नंदन नई दिल्ली  । नब्बे बहार देखने के बाद हिन्दी साहित्य के  सुविख्यात समालोचक नामवर सिंह ने अपने...

आज मैंने एक सपना देखा …(कविता)

0
आज ठंडी रात में मैंने एक सपना देखा तुम मेरे पहलू में लेटी हो और मुझे जगा रही हो कह रही हो की कुछ मजबूरियां तुम्हारी भी है और मेरी...

महान कवि की कविता

ऊंची इमारत की ऊपरी मंजिल पर लिखी जाने वाली कविताओं में अब हिन्दुस्तान का बोध नहीं होता शब्द गमगीन की जगह सौंदर्य से भरे होते हैं वातावरण खुशनुमा होता...

सोता रहता है “जागते रहो” का संपादक (स्क्रीप्ट शैली, भाग-1)

6
यह एक अखबार की कहानी है जिसका  संपादक हैं चरित्र वर्मा। अखबार का नाम है जागते रहो। लेकिन चरित्र वर्मा अपनी कुर्सी पर हमेशा सोया...

लुबना (फिल्म स्क्रीप्ट, भाग-8)

1
 Scene -17 Character- Dhusar Ext/Day/ at Shamsan (धूसर श्मसान में उस चिता तक पहुंचता है, जहां लुबना ने श्मसानी के साथ संभोग किया था। वह अनमने ढंग...

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल “निशंक” वातायन शिखर सम्मान-2020 से...

0
राजू बोहरा नई दिल्ली / तेवरऑनलाइन.डॉटकॉम भारत सरकार के केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल "निशंक" को यू.के. की अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक संस्था "वातायन" द्वारा उनकी...

बेबसी ( कहानी )

   “  मुबारक हो जय बाबू ! नयी जिन्दगी बहुत बहुत मुबारक हो।” आत्मविश्वास से भरे डॉक्टर अनिल के ये शब्द जय बाबू के कानों...

काले कागज़ पे काली स्याही असर क्यों छोड़े !(कविता)

0
हज़ारों अर्जियों पड़ी हैं उनके  मेज़ पर कब से तेरे अर्जी की दाखिली का वक़्त कल ही आएगा..! खड़े रहो तब-तलक, बनो कतार का हिस्सा.. थक के...