अर्जुन मांझी की हत्या के बाद गांव से पलायन कर गया है महादलित परिवार

0
34

तेवरअॉनलाईन, पटना

प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे एवं प्रधान महासचिव श्री मुन्द्रिका सिंह यादव ने कहा कि गया जिलांतर्गत टेकारी थाना के पुरा गांव में महादलित अर्जुन मांझी की निर्ममतापूर्वक हत्या एवं सामंतों द्वारा महादलितो को गांव छोड़ने का फरमान के परिणामस्वरूप महादलित परिवार गांव छोड़कर पलायन कर चुके हैं, जो इस बात का द्योतक है कि देश और राज्य में जो राजनीतिक वातावरण बना है, उसमें सामंती शक्तियां फिर से सर उठाते हुए कमजोर तबके पर जुल्म ढाने लगी है, जिसकी रा0ज0द0 घोर निंदा करते हुए वंचित तबके की लड़ाई के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दर्शाते हुए राज्य सरकार से ऐसी घटना में न सिर्फ महादलित परिवारों के साथ न्याय और पुनर्वास की मांग करती है बल्कि राज्य में सर उठा रही सामंती प्रवृतियों का दुःसाहसिक कार्य के लिए कड़ी से कड़ी सजा देते हुए राजधर्म का निर्वहन कर ऐसी कुप्रवृति का सर कुचलने का काम करेगी ये आशा करती है।
डाॅ0 सुधांशु शेखर भास्कर प्रदेश अध्यक्ष एवं दलित प्रकोष्ठ एवं प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 रामानुज प्रसाद ने घटना में शामिल सभी संलिप्त आरोपियों पर 302 का मुकदमा दर्ज करते हुए गिरफ्तार करने एवं महादलित परिवारों की पुनर्वास एवं सुरक्षा की पुख्ता इंतजाम की मांग की।
प्रदेश प्रवक्ता मनीष यादव ने कहा कि उक्त घटना की जाँच के लिए रा0ज0द0 के प्रधान महासचिव द्वारा नौ सदस्यीय जाँच टीम का गठन किया गया है जो कल घटनास्थल पहुँचकर प्रभावित परिवारों से मुलाकात करेगा।
जाँच टीम श्री रामजी मांझी एवं पूर्व सांसद के संयोजकत्व में डाॅ0 सुधांशु शेखर भास्कर प्रदेश अध्यक्ष दलित प्रकोष्ठ, श्री रामानुज प्रसाद पूर्व विधायक एवं प्रदेश प्रवक्ता, प्रो0 रामबली सिंह चंद्रवंशी प्रदेश महासचिव, प्रो0 राधेश्याम प्रसाद जिलाध्यक्ष गया, मो0 आसिफ उपाध्यक्ष, मो0 मुर्शिद आलम उपाध्यक्ष, श्रीमति समता देवी पूर्व विधायक एवं अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ एवं सरस्वती देवी नेत्री राजद सदस्य के रूप में शामिल हैं।
(रामानुज प्रसाद)
पूर्व विधायक एवं प्रदेश प्रवक्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here