मुंगेर के सिंघिया में मारपीट व प्रताड़ना के शिकार 16 वर्षीय छात्र ने की खुदकुशी

0
111

मृतक छात्र के परिजन और आक्रोशित ग्रामीणों ने एन एच 80को डेढ़ घंटे तक किया जाम

मृतक छात्र के परिजन के बयान पर सफिया सराय ओपी में 10 लोगों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कराया गया
लालमोहन महाराज, मुंगेर
मुंगेर जिले के जमालपुर प्रखंड के सिंघिया गांव में प्रेम प्रसंग के मामले में फरार हुई एक लड़की के पिता और सगे चाचा सहित अन्य लोगों ने एक 16 वर्षीय छात्र मनीष कुमार को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।इसके बाद मारपीट व सामाजिक प्रताड़ना के शिकार छात्र मनीष ने खुदकुशी कर अपने जीवन की इहलीला समाप्त कर ली। मनीष की हुई मौत के बाद आक्रोशित परिजनों व स्थानीय ग्रामीणों ने मारपीट करने वाले को फांसी की सजा देने की मांग को लेकर एनएच 80 मुंगेर पटना सड़क मार्ग को डेढ़ घंटे तक बाधित कर दिया। जिससे छोटे-मोटे वाहन सहित बड़े वाहनों का परिचालन बाधित हो गया। सड़क जाम व परिजनों के विरोध प्रदर्शन की खबर मिलते ही सिंधिया गांव पहुंचे जमालपुर बी डी ओ नंद किशोर कुमार ,सीओ संजय कुमार ,सफिया सराय ओपी प्रभारी नीरज कुमार ठाकुर, जमालपुर थाना ध्यक्ष सर्वजीत कुमार, हेमजापुर ओपी प्रभारी संजय कुमार ने मृतक के परिजनों और ग्रामीणों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर व समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। बताया जाता है कि सिंधिया की एक लड़की अपने प्रेमी के संग महाराष्ट्र भाग गई थी। गांव के शंकर साह, प्रभात कुमार ,सोहन कुमार ,रोशन कुमार, राजेश कुमार ,अंकित कुमार सहित अन्य कई लोग सिंधिया निवासी राजेश शर्मा के 16 वर्षीय पुत्र मनीष कुमार को लड़की संग फरार हुए लड़के का दोस्त बताते हुए बुरी तरह मारा-पीटा इसके बाद पुलिस ने भी पूछताछ की। इसके बाद मारपीट व मानसिक रूप से प्रताड़ित हुए छात्र मनीष ने घर पहुंच कर गले में फांसी का फंदा डालकर अपने जीवन की इहलीला समाप्त कर ली। घर में मृत अवस्था में पड़े मनीष को जब उनके माता-पिता सहित आसपास के ग्रामीणों ने देखा तो सभी के होश उड़ गए। परिजनों और ग्रामीणों ने चिकित्सकों को भी दिखाया ।लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और मनीष की मौत हो चुकी थी। आक्रोशित परिजनों ने मृतक मनीष के शव को राष्ट्रीय उच्च पथ80 मुंगेर पटना मुख्य मार्ग पर रखकर सड़क जाम कर दिया। आक्रोशित ग्रामीणों और परिजनों का कहना था कि मृतक मनीष को मारने वाले को फांसी की सजा दी जाए। घटनास्थल पर पहुंचे अधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों ने आंदोलनकारियों को समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। इसके बाद वाहनों का परिचालन बहाल हो पाया। वहीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मुंगेर भेज दिया है । थाना ध्यक्ष नीरज कुमार ठाकुर ने बताया कि मृतक युवक ने मानसिक रूप से प्रताड़ित होने के बाद खुदकुशी की है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद स्पष्ट हो जाएगा ।वहीं दूसरी ओर फरार हुई लड़के व
लड़की को महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से हिरासत में लिया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here